सरसों के बीज के फायदे – Benefits of Mustard Seeds in Hindi

0

हम सब जानते हैं कि सरसों का तेल हमारे लिए कितना फायदे देता है लेकिन आप सरसों के बीज के स्वास्थय लाभ नहीं जानते होंगे। सरसों के बीज (mustard Seeds) के कई सारे औषधीय गुण होते हैं जो हमारे हेल्थ को बहुत बेनिफिट्स देते हैं। इनका उपयोग आयुर्वेद में कई दवा बनाने में किया जाता है। जिस प्रकार सरसों का तेल में लहसुन की कलियों को गर्म करके कान में डाला जाय तो कान दर्द से तुरंत रहत मिलती है वैसे ही इसके बीज भी हमारे सेहत के लिए कई फायदेमंद होती हैं। आइये जानते हैं। सरसों और इसके बीज के फायदे। सरसों-के-बीज-के-फायदे---Benefits-of-Mustard-Seeds-in-Hindi

सरसों के बीज के औषधीय गुण और लाभ

सरसों के बीज का उपयोग मसाले के रूप में भी किया जाता है इसके चटनी भी बहुत मजेदार होती यही। यह न सिर्फ स्वाथ्य के लिए फायदेमंद है बल्कि हमारी त्वचा बालों के लिए बहुत लाभकारी होता है।

1. कैंसर रोग में सहायक

सरसों के बीज में ग्लूकोसिनोलेट्स जैसे यौगिक मौजूद होते हैं जो शरीर में कैंसर से ग्रसित कोशिकओं के विकास को बाधित करने के लिए फाइटोकेमिकल्स उपयोग करने के लिए जाने जाते हैं। सरसों के बीज का यह गुण पहलसे से मौजूद कैंसर को ठीक करने में मदद करता है और नए कैंसर कोशिकाओं को नहीं पनपने देता।

2. कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम करे

सरसों के बीज में नियासिन और विटामिन बी ३ प्रचुर मात्रा में पायी जाती है जो कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करने के लिए जनि जाती हैं। साथ ही अथेरोक्लेरोसिस से बचाता है जिससे रक्त प्रवाह ठीक रहता है, और शरीर को उच्च रक्तचाप नहीं होता।

3. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये

जब तक हमारी प्रतिरक्षा पणाली मजबूत नहीं होगी तक हम बिमारियों के प्रभाव से नहीं बच सकते हैं, जिसमे सरसों के बीज बहुत कारगर होते हैं। सरसों के तेल में आयरन, मैगनीज, कॉपर जैसे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले पौष्टिक तत्व होते हैं।

4. वजन कम करने में मददगार

सरसों के बीज में विटामिन बी काम्प्लेक्स जैसे फोलेट, नियासीन, थियामिन होते हैं जिनमे मोटापा और वजन को कण्ट्रोल करने की शक्ति होती है। सरसों का तेल में मेटाबॉयलिज़्म होता है जो वजन घटने में सहायक होता है।

5. अस्थमा रोग में सहायक

अस्थमा से पीड़ित व्यक्तियों के लिए सरसों के बीज काफी मददगार हैं। इनके बीज में मैग्नीशियम और सेलेनियम पाया जाता है इन दोनों में एंटीइन्फ्लैमटॉरी होता है। सरसों अगर रोज़ खाया जाए तो अस्थमा, सर्दी और सीने में जमे बलगम से आराम मिलता है।

loading...

6. स्किन इन्फेक्शन से बचाये

बहुत सारे लोग बैक्टीरिया के इन्फेक्शन होने से अपने त्वचा से परेशान हैं। सरसों के बीज में एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल तत्व पाए जाते हैं जो स्किन इन्फेक्शन को कम करने में मदद करते हैं।

7. त्वचा में नमी बनाये रखे

सरसों के बीज के साथ एलोवेरा जेल मिलकर अपनी त्वचा पर लगाएं इससे आपकी त्वचा हाइड्रेट रहती है। इनके स्क्रब से त्वचा की समस्याएं अंदर से ही ख़त्म हो जाती हैना और स्किन को पोषण मिलता है।

8. खूबसूरत बनाये

सरसों में विटामिन A, C, K के अलावा कैरोटीन, जीक्सान्थींस भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो हमारे चेहरे से दाग-धब्बे और झुर्रियों को दूर करने में मदद करते हैं। इनसे त्वचा खूबसूरत और चिकनी बनती है।

9. संक्रमण से बचाये

सरसों के बीजों में सल्‍फर की अच्‍छी मात्रा पाई जाती है। जिसे एंटी-फंगल गुण के रूप में जाना जाता है। यह त्‍वचा के हर प्रकार से संक्रमण को दूर करने में मदद करता है। यह कब्ज दूर करने में भी सहायक होती है।

10. बालों को स्वस्थ बनाये

सरसों के बीज में प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन ए और ई, ओमेगा -3 और ओमेगा -6 फैटी एसिड होते है। यह सभी पोषक तत्‍व मिलकर बालों को अंदर से मजबूती देते हैं। यह बालों के झड़ने की समस्‍या कम होती है यह एक अच्‍छा उत्तेजक है जो तेजी से बालों को विकास की ओर ले जाता है। इसमें मौजूद फैटी एसिड बालों को अंदर गहराई से कंडीशनर करने के रूप में जाना जाता है। साथ ही यह बालों को चमकदार और घना बनाता है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here