आलू के गुण और स्वास्थ्य लाभ

0

सब्जियों का राजा आलू लगभग हर सब्जी को बनाने में प्रयोग किया जाता है। खाने में आलू का स्वाद जितना अच्छा होता है यह उतना ही कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है। बहुत से लोग केवल इसकी सब्जी का लुप्त उठाते हैं लेकिन उन्हें ये पता नहीं की इसके कितने स्वास्थ्य लाभ होते हैं। यह एक तरह मोटापे को बढ़ाने में कारगर तो है लेकिन दूसरी तरफ यह कई बिमारियों को सही करने में बहुत ही गुण कारी सब्जी है। आलू में सोडा, पोटेशियम, विटामिन A, D होने के साथ-साथ इसमें फॉस्फोरस, आयरन, ज़िंक, मैग्नेशियम प्रयाप्त मात्रा में होता है। यह न सिर्फ हमारे सेहत को फायदे देता है बल्कि यह हमारी त्वचा की खूबसूरती के लिए बहुत लाभकारी होता है। आलू-के-फायदे-स्वास्थ्य-गुण-Health-Benefits-of-Potato-in-Hindi

आलू के फायदे – Health Benefits of Potato in Hindi 

यह लगभग हर सीजन में सब्जी मंडी में आसानी से मिल जाता है। आलू एक ऐसी सब्जी है जो हर सीजन में कम दाम पर हमें उपलब्ध हो जाती है। सभी सब्जियों में शामिल होने की वजह से इसे सब्जियों का राजा भी कहते हैं। आलू में मौजूद कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन, ग्लूकोज और एमिनो एसिड में बदलकर शरीर को तुरंत शक्ति देते हैं। इसके अलावा आलू में कई पारकर के एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं जो हमारे शरीर को फ्री रेडिकल्स के नुक्सान से बचाते हैं।

1. वजन बढ़ाने में सहायक

आलू में प्रोटीन बहुत कम होता है लेकिन कार्बोहाइड्रेट की मात्रा बहुत अधिक पाया जाता है। दुबलेपन से परेशान लोगों के लिए यह एक उत्तम भोजन है। विटामिन सी और बी की मौजदूगी होने के के कारण यह कार्बोहाइड्रेट के समुचित अवशोषण में भी मददगार होता है। इसके नियमित भोजन करने से आप कुछ ही समय में अपने वजन में बढ़ावा पाएंगे।

2. दिल की बीमारी से बचाये

आलू में मौजूद विटामिन, मिनरल और अन्य पोषक तत्व में केरोतेनौड्स हमारे दिल और आतंरिक अंगों के लिए लाभकारी होते हैं। लेकिन जो व्यक्ति मोटापे या मधुमेह से ग्रसित हैं उन्हें आलू का ज्यादा सेवन करने से बचना चाहिए क्यूंकि इसका सेवन शरीर में ग्लूकोज के स्तर को बढ़ता है और शरीर में और ज्यादा मोटापा बढ़ने से असर सीधे दिल पर पड़ता है।

3. दिमाग के विकास में सहायक

दिमाग के विकास के शरीर में ग्लूकोज, ऑक्सीजन, विटामिन बी कॉम्प्लेकस में मौजूद कुछ तत्वों, हार्मोन, एमिनों ऐसिड और फैटि एसिड जैसे ओमेगा-3 बहुत जरूरी होते हैं। और ये सब पौष्टिक तत्व आलू में पाए जाते हैं। यह मस्तिष्क के थकावट को रोकता है और संज्ञानात्मक गतिविधि और प्रदशन को उच्च रखता है। दिमाग को शुद्ध ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है जो रक्त में हीमोग्लोबिन द्वारा मस्तिष्क तक भेजी जाती है।

4. गठिया रोग में सहायक

आलू में मौजूद विटामिन, कैल्शियम और मैग्नीशियम गठिया रोग में काफी मददगार होते हैं। उबले हुए आलू का पानी गठिया के दर्द और सूजन में राहत देता है। आलू में भरपूर मात्रा में मौजूद स्टार्च और कार्बोहाइड्रेट गठिया के मरीजों का वजन बढा सकता है, इसलिए इसका सेवन सही रूप से करना अनिवार्य है।

5. पाचन तंत्र मजबूत करे

आलू में भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट पाए जाते हैं जो खाना पचाने में सहायक होते हैं। जिन लोगों का पाचन तंत्र कठोर भोजन को पचा नहीं सकता उनके लिए यह बहुत ही लाभकारी होता है। इसके सेवन से पेट की समस्याएं जैसे गैस, एसिडिटी दूर हो जाती है। ज्यादातर बच्चों कर मरीजों को उबला आलू खाने को दिया जाता है क्यूंकि इसमें फाइबर की मात्रा काफी कम होती है। जिससे भोजन को पचाने में आसानी हो जाती है।

6. त्वचा को बनाए स्वस्थ

हमारे शरीर की त्वचा को स्वस्थ और मुलायम होने के लिए जरूरी पौष्टिक तत्व की जरूरत होती है जिसमे विटामिन सी, विटामिन भी, मैग्नीशियम, फास्फोरस और जिंक काफी लाभकारी होते हैं जोकि आलू में भरपूर होते हैं। उबले हुए आलू में थोडा सा शहत मिलाकर, इसका एक फेस पैक बनाए और अपने चहरे पर लगाएँ। यह पैक आपके चहरे के मुँहासों और धब्बों को मिटा देगा। आलू के टुकड़े त्वचा को कोमलता और सुन्दर बनाने में काफी खास होते हैं।

7. सूजन घटाने में लाभकारी

आलू आंतरिक और बाहरी दोनों तरफ के सूजन को कम करने में काफी प्रभावी होता है। आलू पचाने में जितना मजेदार होता है वहीँ इसमें मौजूद विटामिन सी, पोटेशियम, विटामिन बी 6 और अन्य खनिज तत्व आँतों और पाचन तंत्र में हुई सूजन को घटाने में सहायक होते हैं। यह मुँह के अल्सर वाले लोगों के लिए बहुत अच्छा आहार होता है।

8. पथरी में लाभकारी

आलू में मौजूद आयरन और कैल्शिम गुर्दे की पथरी के लिए उतने फिट तो नहीं होते हैं लेकिन इनमे मैग्नीशियम भी होता है जो गुर्दे और अन्य ऊतकों में कैल्शियम के जमाव को रोकने में मदद करता है।

9. हड्डियों के लिए फायदेमंद

विटामिन सी और कैल्शियम की मौजूदगी होने के कारण यह हमारे शरीर की हड्डियों को मजबूती देने के लिए बहुत अच्छा स्रोत होता है। यह हड्डियों के गांठों को नयी ताकत देता है जिससे शरीर मजबूत और ताकतवर दीखता है।

10. उच्च रक्तचाप को कम करे

उच्च रक्तचाप होने के बहुत से कारण हो सकते हैं जिनमे मधुमेह, तनाव, अपच आदि हैं। ज्यादा तनाव लेने से रक्तचाप में बढ़ावा आने लगता है। vitamin सी और फाइबर की अधिकता होने के कारण यह आपज जैसी समस्या से निजात दिला सकता है। उच्च रक्तचाप से कई बीमारियां होती हैं। aaloo में मौजूद फाइबर कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होता है जो शरीर में इन्सुलिन के कामकाज को सुधरता है जिससे रक्तचाप कम होने की संभावना ज्यादा हो जाती है।

loading...
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here