करी पत्ता के फायदे Benefits of Curry Leaves in Hindi

0

कढ़ी पत्ता बहुत सारे औषधीय गुण से भरपूर होता है जो हमारे स्वास्थ्य और सेहत को बहुत फायदे देता है। यह जितना हमारे भोजन के स्वाद को बढ़ाने में मदद करता है उससे ज्यादा हमारे सवास्थ्य को लाभ पहुंचता है। करी पत्ते में प्रोटीन और बीटा भरपूर मात्रा में होता है जो हमारे स्वास्थ्य से लेकर हमारे बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। कढ़ी पत्ता मोटापा तो कम करता ही है साथ ही इसकी पत्तियां हर्बल औषधी के रूप में इस्‍तेमाल होती हैं। कढ़ी पत्ते की एक और खासियत यह है कि यह उदर संबंधी कई रोगों को नियंत्रित करता है। इसका नियमित सेवन पाचन शक्ति को मजबूत बनाता है। कढ़ी पत्ते के सेवन से शरीर चर्बी एकत्रित नहीं होती है। कढ़ी-पत्ता-के-औषधीय-गुण-फायदे Benefits-fayde-of-curry-leaves-in-hindi

कढ़ी पत्ता के औषधीय गुण 

कढ़ी पत्ता में इतनी शक्ति होती है कि यह मधुमेह मरीजों और वजन को लेकर परेशान लोगों के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। अक्सर यह करी में डाला जाता है इसलिए इसे करी पत्ता के नाम से जाना जाता है। दक्षिण भारत में इसे दाल भी डाला जाता है। यह भोजन को आसानी से पचा देता है। आइये जानते हैं करी पत्ता के बेहतरीन फायदों के बारे में।

1. वजन घटाने में फायदेमंद

कढ़ी पत्ता वजन को कम करने में सहायक है इसमें मौजूद फाइबर शरीर में जमे अतिरिक्त वसा और विषाक्त पदार्थो को बाहर निकलने में मदद करता है। रोजाना दो से चार पत्ते करी पत्ता चबाने से जहाँ वजन में कमी आती है वही कोलेस्ट्रॉल की मात्रा भी नियंत्रित होती है।

2. पाचन क्रिया मजबूत करे

अगर आपका खाया हुआ भोजन सही तरीके से नहीं पच रहा है तो आप कढ़ी पत्ते का सेवन करें। पेट की समस्या जैसे कब्ज, अपचा या मल्टी आने पर आप कढ़ी के पत्ते का रस निकले और उसमे थोड़ा नीबूं और थोड़ा चीनी मिलकर पी जाएँ। इससे आपकी ये सारी समस्या दूर होने लगेंगे।

3. दिल को स्वस्थ रखे

जहाँ कढ़ी पत्ते में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करने का गुण होता है वही यह दिल की बिमारियों को दूर करने में भी मददगार है। कढ़ी पत्ते में एंटीऑक्सीडेंट होते है जो कोलेस्ट्रॉल का ऑक्सीकरण होने से रोकता है जिससे शरीर में ख़राब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा नहीं बढ़ती और हृदय स्वस्थ और मजबूत रहता है।

4. एनीमिया रोग में सहायक

एनीमिया रोग ज्यादातर शरीर में खून की कमी के कारण होता है, जिसके लिए कढ़ी पत्ता काफी लाभकारी होता है। करी पत्ते में भरपूर मात्रा में आयरन और फॉलिक एसिड होता है। आयरन जहां शरीर के लिए एक प्रमुख पोषक तत्व है वहीं फॉलिक एसिड इसके अवशोषण में सहायक होता है। इस वजह से यह एनीमिया से बचाव करने में कारगर है।

5. डायबी‍टीज रोग में सहायक

डायबी‍टीज यानि मधुमेह रोग से पीड़ित रोगियों के लिए कढ़ी पत्ते काफी फायदेमंद होते हैं। अगर डायबी‍टीज रोगी कड़ी के पत्‍ते को रोज सुबह तीन महीने तक लगातार खाएं तो फायदा होगा। इसके अलावा अगर डायबीटीज मोटापे की वजह से हुआ है, तो कड़ी पत्‍ता मोटापे को कम कर के मधुमेह को भी दूर कर सकता है।

6. लीवर को मजबूत बनाये

गलत खान-पान हो या शराब की मात्रा ज्यादा हो जाती है तो इंसान का लीवर ख़राब हो जाता है। इसलिए लीवर की समस्या से निजात पाने के लिए आप करी पत्ता का सेवन करें। इसमें मौजूद विटामिन ए और सी लीवर को दुरुस्त करने में मदद करते हैं।

7. आँखों की रोशनी बढ़ाये

विटामिन A से भरपूर होने की वजह से यह आँखों की रौशनी को बढ़ावा देता है। इसके नियमित सेवन से कैटरैक्ट जैसी भयानक बिमारी को दूर किया जा सकता है। इससे आँखों की बिमारियों दूर होती है और आँख स्वस्थ बने रहते हैं।

8. बालों के लिए

अगर आप अपने झड़ते या सफ़ेद भूरे बालों से परेशान हैं तो आप कढ़ी पत्ता जरूर खाएं। आपको कड़ी पत्‍ता समूचा नहीं अच्‍छा लगता तो बाजार से उसका पाउडर खरीद लें और फिर उसे अपने भोजन में डाल कर खाएं। यह आपके बालों को अंदुरुनी ताजगी और मजबूती देगा। जिससे आपके बाल बनेंगे मजबूत और लम्बे।

9. त्वचा की रक्षा करे

करी पत्ते में ऐसे एंटी-ऑक्सीडेंट,एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं तो हमारी त्वचा की रक्षा करते हैं। त्वचा को किसी भी infection से बचाने के लिए आप नियमित रूप से करी पत्ता का इस्तेमाल करें।

loading...
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here