अरबी खाने के फायदे और नुकसान

0

अरबी की सब्जी का नाम सुनते ही मुँह में पानी आ जाता है क्यूंकि इसकी सब्जी होती ही इतनी मजेदार है। अरबी ज्यादातर सर्दियों के मौसम में आती है। आलू की तरह यह ज़मीन के अंदर होता है लोग इसकी जड़ों की सब्जी से लेकर इसके पत्तों की भी सब्जी बड़े चांव से खाते हैं। इसकी पत्तियों में कई सारे पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं, जिनमें विशेषकर विटामिन A, बी, सी, इ के अलावा, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस और मैंगनीज है। यह कंद फल के नाम से जाना जाने वाला बहुत सारे रोगों को दूर करने के काम आता है। आएये जानते हैं इस गुणकारी अरबी के फायदे हिंदी में। अरबी-खाने-से-फायदे-Benefits-of-Arbi-in-Hindi

अरबी खाने से फायदे/ Benefits of Arbi in Hindi 

अरबी को कच्चा कभी भी नहीं खाना चाहिए इसे आप आलू की तरह उबालकर खा सकते हैं। चिकित्सकों के मुताबिक कार्बोंहाइड्रेट और प्रोटीन से भरपूर अरबी में आलू की अपेक्षा ज्यादा पौष्टिक होता है। यह मस्तिष्क को स्वस्थ्य तो रखता ही है साथ ही रक्तपित्त की विकृति को भी दूर करता है।

1. मधुमेह रोग में सहायक

अरबी में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो मधुमेह की रोग को कम करने में मदद करता है, क्यूंकि इसमें इन्सुलिन और ग्लूकोज को संतुलन में रखने की काबिलियत होती है। इसके सेवन से आप अपने ग्लाइसेमिक स्तर का प्रबंधन कर सकते हैं, और मधुमेह के रोग को कम कर सकते हैं।

2. कैंसर से बचाये

अरबी में प्रचुर मात्रा में विटामिन A, विटामिन C और एंटी-ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं जो कैंसर कोशिकाओं को विकसित होने से बचाते हैं। अगर आप इसका सेवन सप्ताह में दो बार भी करें तो आप इस खतरनाक बिमारी से बच सकते हैं। आप अरबी को सब्जी बनाकर या उबालकर खा सकते हैं।

3. पाचन तंत्र मजबूत बनाये

अरबी हमारे पाचन को तंदुरस्त बनाने में काफी मदद करता है। इसमें मौजूद फाइबर्स हमारे पाचन क्रिया को बेहतर बनाते हैं। फाइबर हमारे आँतों के करियों के लिए बल्क जोड़ने में मदद करता है जिसकी मदद से हमारा भोजन पाचन तंत्र से आगे बढ़ता है। इसके सेवन से आपको गैस, एसिडिटी, कब्ज या गैस की समस्या से छुटकारा मिलेगा।

4. आँखों की रोशनी बढ़ाये

अरबी में बिता-कैरोटीन और कारिप्टोकसानथिन सहित कई एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो हमारी आँखों की कोशिकाओं को नुक्सान पहुंचने वाली मुक्त कणो को नष्ट करती हैं और साथ ही मोतियाबिंद जैसी समस्या से छुटकारा दिलाती है। इसके सेवन से हमारी आँखों की रौशनी बेहतर बनती है।

5. प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करे

अरबी में विटामिन सी की मात्रा उच्च होती है जो हमारे प्रतिरक्षा प्रणाली और सफ़ेद रक्त कोशिकाओं को बनने में उत्तेजित करती है। इसके नियमित सेवन से हृदय रोग और कैंसर जैसी खतरनाक रोगों का निपटारा हो जाता है।

6. हृदय को मजबूत बनाये

अरबी दिल को स्वस्थ बनाने में अहम् भूमिका निभाता है। इसमें मौजूद पोटेशियम न केवल शरीर में झिल्ली और ऊतकों के बीच स्वस्थ तरल पदार्थ की सुविधा करता है बल्कि रक्त वाहिकाओं और धमनियों के तनाव और दबाव को दूर करने में मदद करता है। इससे हमारे शरीर में रक्त का संचरण संतुलित रूप से होता है। जिससे दिल के रोग होने के खतरे टल जाते हैं।

7. वजन नियंत्रित करे

जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं उनके लिए अरबी खाना बहुत ही लाभदायक होता है क्यूंकि इसमें कम कैलोरी पाई जाती है। साथ ही यह फाइबर्स माटाबॉयलिज़्म को सक्रीय बनाता है और वजन को नियंत्रित करने मदद करता है।

8. यौन शक्ति बढ़ाये

जिन लोगों में यौन शक्ति की कमी होती है उनके लिए अरबी खाना बहुत ही फायदेमंद होता है। यह कंद शक्ति और वीर्यवर्धक होता है। इसकी पत्तियों की सब्जी खाकर शरीर को मजबूती मिलती है। आप चाहें तो इसे उबालकर नमक के साथ खा सकते हैं।

9. मांसपेशियों को मजबूती दे

अरबी में मौजूद विटामिन इ और मैग्नीशियम शरीर की मांसपेशियों को मजबूती देने में मदद करते हैं। अरबी में मजूद मैग्नीशियम शरीर की हड्डियों, मांसपेशियों और तंत्रिका तंत्र को स्वस्थ रखने में सहायता करता है।

10. त्वचा को बनाए स्वस्थ

विटामिन A और विटामिन E की मौजूदगी में अरबी हमारे त्वचा को स्वस्थ और नरम बनाने में मदद करता है। ये दोनों विटामिन हमारी त्वचा से ख़राब कोशिकाओं को मिटने और लेलुलर स्वास्थय को बढ़ावा देने का काम करते हैं। अरबी के सेवन से चेहरे पर हो रही झुर्रियों से भी राहत मिलती है।

अरबी के नुकसान/ Arbi Ke Nuksan in HIndi

  • अरबी को पूरा पकाकर या उबालकर ही खाएं कच्चा अरबी आपके गले या सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है।
  • जो लोग अस्थमा रोग से ग्रसित हैं उन्हें इसकी पत्तियों की सब्जी नहीं कहानी चाहिए।
  • आंत विकारों से पीड़ित व्यक्तियों को इसका सेवन करना हानिकारक होता है।
  • प्रसव के बाद भूलकर भी अरबी की सब्जी नहीं खाएं।

     

  • इसके अलावा जिन लोगों के  घुटनों में दर्द होने की शिकायत हो और खांसी हो उन्हें भी अरबी का सेवन नहीं करना चाहिए।
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here